निवेदन।


फ़ॉलोअर

रविवार, 23 दिसंबर 2018

1255..बेशर्मी की हद होती है, जनता जिनको सपने देती है

शुभ रविवार..
आज मन बहुत दुखी है
हमारा प्यारा दिसम्बर जो जा रहा है
सच में..बड़ा ही प्यारा है
छोटे-दिन..लम्बी रातें
भूली-बिसरी बातों से भी
कटती नहीं ये प्यारी रातें

नहीं न लिखेंगे अब आगे...
चलिए रचनाएं की ओर चलें....

मैंने खुला छोड़ रखा है 
अपने घर का दरवाज़ा,
इस उम्मीद में 
कि शायद भूला-भटका 
कोई दोस्त आ जाय 
या कोई अति उत्साही 
दुश्मन ही घुस आय.

छोटी बड़ी बातों पर
देना   बधाइयां 
हो गई एक प्रथा 
आज कल 
बधाइ  चारो ओर से  
लिपट जातीं   उनसे

धूमिल सी हो चली थी संध्या,
थम गई थी, पागल झंझा,
शिथिल हो, झरने लगे थे रज कण,
शांत हो चले थे चंचल बादल....

इस दृष्टि-पथ से, तुम हुए थे जब ओझल...

गजल सीखने के लिए जरूरी है कि आपको 
१-मात्रा ज्ञान हो।
२-रुक्न (अरकान) की जानकारी हो।
३-बहरों का ज्ञान हो।
४-काफ़िया का ज्ञान हो।
५-रदीफ का ज्ञान हो।
और फिर शेर और उसका मफ़हूम (कथन)।
एवं गजल की जबान की समझ हो।


अशोक बाबु माहौर
वो यूँ ही 
एक मुस्कान 
छोड़ चली गई 
हाथ हथेली पर रख 
किधर गई, 
मैं ठगा सा 
देखता रहा तन्हा 
वो यादें 
बेबुनियाद दे गई |


चलते-चलते एक और मेरी ओर से
करोड़पति हैं 
पढ़े लिखे हैं
अखबारों में 
मत छपवाओ

चुल्लू भर 
पानी दे आओ

सफेद 
कपड़ों पर 
मत जाओ
दल से इनके 
मत भरमाओ

भाईचारा 
समझ भी जाओ
-*-*-*-
अच्छा तो अब चलते हैं
फिर मिलेंगे
यशोदा







13 टिप्‍पणियां:

  1. मैं विवश तड़पता रहा रात भर
    सपने जगा जगा कर...

    सुंदर संकलन,प्रणाम

    जवाब देंहटाएं
  2. शुभ प्रभात...
    एक मुस्कान
    छोड़ चली गई
    मैं ठगा सा
    देखता रहा तन्हा
    वो यादें
    बेबुनियाद दे गई |
    बेहतरीन ..
    सादर..

    जवाब देंहटाएं
  3. छोटे-दिन..लम्बी रातें
    भूली-बिसरी बातों से भी
    कटती नहीं ये प्यारी रातें....
    शुभ प्रभात ....

    जवाब देंहटाएं
  4. बहुत सुंदर संकलन
    सस्नेहाशीष संग शुभकामनाएं छोटी बहना

    जवाब देंहटाएं
  5. बेहतरीन रचनाएँ
    सुंदर अंक
    सुप्रभात

    जवाब देंहटाएं
  6. सुप्रभात मेरी रचना शामिल करने के लिए धन्यवाद |लिंक्स बहुत अच्छे लगे |

    जवाब देंहटाएं
  7. बहुत ही प्यारा न्यारा शीत की धूप सा मनमोहक अंक सखी।
    बधाई।
    सभी रचनाकारों को इतनी शानदार रचनाओं के लिये बधाई
    सादर

    जवाब देंहटाएं
  8. सुंदर संकलन.मेरी रचना शामिल करने के लिए धन्यवाद.

    जवाब देंहटाएं
  9. सुन्दर रचना संग्रह जखीरा को शामिल करने हेतु धन्यवाद ।

    जवाब देंहटाएं
  10. शानदार प्रस्तुतिकरण उम्दा लिंक संकलन...

    जवाब देंहटाएं
  11. बेहतरीन प्रस्तुति
    बेहतरीन रचना संकलन
    सभी रचनाकारों को बधाई

    जवाब देंहटाएं
  12. अच्छी लगी सभी रचनाएँ। हमेशा की तरह बेहतरीन प्रस्तुति तो है ही। सादर।

    जवाब देंहटाएं

  13. बेहतरीन प्रस्तुति
    बेहतरीन रचना संकलन

    सभी रचनाकारों को बधाई 26 january speech in hindi

    जवाब देंहटाएं

आभार। कृपया ब्लाग को फॉलो भी करें

आपकी टिप्पणियाँ एवं प्रतिक्रियाएँ हमारा उत्साह बढाती हैं और हमें बेहतर होने में मदद करती हैं !! आप से निवेदन है आप टिप्पणियों द्वारा दैनिक प्रस्तुति पर अपने विचार अवश्य व्यक्त करें।

टिप्पणीकारों से निवेदन

1. आज के प्रस्तुत अंक में पांचों रचनाएं आप को कैसी लगी? संबंधित ब्लॉगों पर टिप्पणी देकर भी रचनाकारों का मनोबल बढ़ाएं।
2. टिप्पणियां केवल प्रस्तुति पर या लिंक की गयी रचनाओं पर ही दें। सभ्य भाषा का प्रयोग करें . किसी की भावनाओं को आहत करने वाली भाषा का प्रयोग न करें।
३. प्रस्तुति पर अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .
4. लिंक की गयी रचनाओं के विचार, रचनाकार के व्यक्तिगत विचार है, ये आवश्यक नहीं कि चर्चाकार, प्रबंधक या संचालक भी इस से सहमत हो।
प्रस्तुति पर आपकी अनुमोल समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक आभार।




Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...