निवेदन।


समर्थक

शनिवार, 22 सितंबर 2018

1163... हिन्दी दिवस पखवाड़ा... नींद


सभी को यथायोग्य
प्रणामाशीष

Image result for नींद पर कविता

उछले कूदे
कोलाहल मचाये
सोने जा रहे
सब रखे ताक पे
बेसुध वाली नींद

Image result for नींद पर कविता

गिले शिकवे
स्पर्द्धा सत्यापनीय
उजड़े नींद
भोर में भिड़ने को
शिद्दत से जीने को

Image result for नींद पर कविता
एक मौन हैं
सपनों का पुकार
निष्प्रयोजन
संग्राम प्‍यारी नींद
नसीब कारस्तानी

Image result for नींद पर कविता

स्नातक स्तर
नहीं भी आती नींद
 नेस्तनाबूद
स्वर्ग से बेआबरू
सन्निपात सिमटी

बिखरी नींद
 ज्वर-जूड़ी चढ़ता
मित्र रहे तो
नीम-तुलसी पौधे
बाधा दूर भगाते

Image result for नींद पर कविता
><
फिर मिलेंगे...

हम-क़दम 
सभी के लिए एक खुला मंच
आपका हम-क़दम का सैंतीसवाँ क़दम 
इस सप्ताह का विषय है
'तृष्णा'
...उदाहरण...
निर्णय-अनिर्णय के दोराहे पर डोलता जीवन,
क्या कुछ पा लूँ, किसी और के बदले में,
क्यूँ खो दूँ कुछ भी, उन अनिश्चितता के बदले में,
भ्रम की इस किश्ती में बस डोलता है जीवन।
-पुरुषोत्तम सिन्हा
उपरोक्त विषय पर आप को एक रचना रचनी है
एक खास बात और आप इस शब्द पर फिल्मी गीत भी दे सकते हैं

अंतिम तिथिः शनिवार 22 सितम्बर 2018
प्रकाशन तिथि 24 सितम्बर 2018  को प्रकाशित की जाएगी ।

रचनाएँ  पाँच लिंकों का आनन्द ब्लॉग के

सम्पर्क प्रारूप द्वारा प्रेषित करें

12 टिप्‍पणियां:

  1. शुभ प्रभात दीदी
    सादर नमन
    बढ़िया प्रस्तुति
    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत ही सुन्दर संकलन सभी चयनित रचनाकारों को बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  3. बेहतरीन प्रस्तुति करण उम्दा लिंक संकलन...

    उत्तर देंहटाएं
  4. पांव जब तलक उठें कि ज़िंदगी फिसल गई
    सुंदर रचनाओं का संकलन

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत ही सुन्दर संकलन बढ़िया प्रस्तुति 👌

    उत्तर देंहटाएं
  6. सुप्रभातम् दी,
    हमेशा की तयह लाज़वाब प्रस्तुति।
    बहुत बढ़िया है सभी रचनाएँ एक संग्रहणीय अंक है दी।

    उत्तर देंहटाएं
  7. सुंदर प्रस्तुति सभी रचनाकारों को बहुत बहुत बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  8. बहुत अच्छी हलचल प्रस्तुति

    उत्तर देंहटाएं
  9. वाह बहुत सुन्दर प्रस्तुति शानदार संकलन ।
    नीरज जी की बेमिसाल कविता...
    पात पात झर गया कि शाख शाख जर गई
    चाह तो निकलन स्की पर उम्र निकल गई।

    उत्तर देंहटाएं
  10. बहुत ही सुन्दर संकलन 🙏🙏🙏

    उत्तर देंहटाएं

आभार। कृपया ब्लाग को फॉलो भी करें

आपकी टिप्पणियाँ एवं प्रतिक्रियाएँ हमारा उत्साह बढाती हैं और हमें बेहतर होने में मदद करती हैं !! आप से निवेदन है आप टिप्पणियों द्वारा दैनिक प्रस्तुति पर अपने विचार अवश्य व्यक्त करें।

टिप्पणीकारों से निवेदन

1. आज के प्रस्तुत अंक में पांचों रचनाएं आप को कैसी लगी? संबंधित ब्लॉगों पर टिप्पणी देकर भी रचनाकारों का मनोबल बढ़ाएं।
2. टिप्पणियां केवल प्रस्तुति पर या लिंक की गयी रचनाओं पर ही दें। सभ्य भाषा का प्रयोग करें . किसी की भावनाओं को आहत करने वाली भाषा का प्रयोग न करें।
३. प्रस्तुति पर अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .
4. लिंक की गयी रचनाओं के विचार, रचनाकार के व्यक्तिगत विचार है, ये आवश्यक नहीं कि चर्चाकार, प्रबंधक या संचालक भी इस से सहमत हो।
प्रस्तुति पर आपकी अनुमोल समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक आभार।




Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...