निवेदन।


फ़ॉलोअर

शुक्रवार, 8 मई 2020

1757 ..पर बुद्ध ! ..तुमने स्व के यज्ञ में दो मासूम मन की आहुति दी

कल निपट गई बुद्ध पूर्णिमा
बहुत सहा भगवान बुद्ध नें
बिहार से निकल कर 
सारे विश्व के हो गए बुद्ध
यशोधरा और राहुल को तजकर
चीन के, जापान के
लद्दाख के , तिब्बत के
हांगकांग के और श्री लंका के भी
सारे जहां के थे भगवान बुद्ध
बाकी बातें बाद में..
चलिए रचनाओं की ओर

सिद्धार्थ से बुद्ध ... या ...
गौतम बुद्ध तक का सफ़र तय करके
तुम्हारे महानिर्वाण के वर्षों बाद
दिया गया था ज़हर सुकरात को
पिया भी उसने अकेले ही
पर बुद्ध ! ..तुमने स्व के यज्ञ में
दो मासूम मन की आहुति दी


यदि मैं भी शहीद हो जाऊं तो मां, 
तुम तनिक नहीं फिर घबड़ाना।
तुमसे जाऊंगा दूर मगर,
पापा से तो मिल पाऊंगा।


पुरखों का 
तर्पण ,पोतों का 
व्याह रचाती थी ,
उत्सव ,कथा 
व्याह में मंगल 
गीत सुनाती थी 
बेटी ,बहू 
पराया ,अपना 
सबके लिए दुआ थी |


My Photo
जब ज़िंदगी मुख़्तसर है दुआएँ भी क्या करें 
आधी मनाने में निकले आधी आज़माने में 

ओढ़ रखी हैं जो उदासियों ने चादर 
मुस्कुराहटें कह रही फेंक दे उतार के 

फेंक कर सिक्के कभी दी गईं किसी मजबूर को 
उसकी दुआएँ भी कभी लग जाती है इंसान को


मैं
ध्यानस्थ होती हूँ
स्वयं की खोज में
किंतु
इंद्रियों के सुख-दुख की
प्रवंचना में
अपने कर्मों की
आत्ममुग्धता के
अंधकार में 
खो देती हूँ
आत्मज्योति।



....
इस सप्ताह का विषय
यहाँ देखिए
....
कल आ रही है विभा दीदी
सदाबहार प्रस्तुति लेकर
सादर


12 टिप्‍पणियां:

  1. आदरणीया यशोदा जी आपका हृदय से आभार |सभी लिकंस पठनीय और प्रेरणादायक |आपका हार्दिक आभार |आप सभी का दिन शुभ हो |

    जवाब देंहटाएं
  2. सुंदर प्रस्तुति
    पठनीय सूत्रों से सजे अंक में मेरी रचना शामिल करने के लिए आभारी हूँ दी।
    सादर।

    जवाब देंहटाएं
  3. सस्नेहाशीष शुभकामनाओं के संग छोटी बहना

    सराहनीय प्रस्तुतीकरण

    जवाब देंहटाएं
  4. बहुत सुंदर प्रस्तुति

    जवाब देंहटाएं
  5. सभी लिकंस पठनीय और प्रेरणादायक

    जवाब देंहटाएं
  6. वाह!खूबसूरत प्रस्तुति ।

    जवाब देंहटाएं
  7. विलम्ब से सुप्रभात यशोदा बहन ! आज की अपनी बहुआयामी प्रस्तुति के बीच मेरी रचना/विचार को साझा करने के लिए आभार आपका ...

    जवाब देंहटाएं
  8. बेहतरीन प्रस्तुति दी ,सादर नमन आपको

    जवाब देंहटाएं
  9. बेहतरीन लिंक्स व रचनाओं हेतु बधाई व शुभकामनाएं ।

    जवाब देंहटाएं
  10. शानदार प्रस्तुति उम्दा लिंक्स...
    सभी रचनाकारों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं।

    जवाब देंहटाएं

आभार। कृपया ब्लाग को फॉलो भी करें

आपकी टिप्पणियाँ एवं प्रतिक्रियाएँ हमारा उत्साह बढाती हैं और हमें बेहतर होने में मदद करती हैं !! आप से निवेदन है आप टिप्पणियों द्वारा दैनिक प्रस्तुति पर अपने विचार अवश्य व्यक्त करें।

टिप्पणीकारों से निवेदन

1. आज के प्रस्तुत अंक में पांचों रचनाएं आप को कैसी लगी? संबंधित ब्लॉगों पर टिप्पणी देकर भी रचनाकारों का मनोबल बढ़ाएं।
2. टिप्पणियां केवल प्रस्तुति पर या लिंक की गयी रचनाओं पर ही दें। सभ्य भाषा का प्रयोग करें . किसी की भावनाओं को आहत करने वाली भाषा का प्रयोग न करें।
३. प्रस्तुति पर अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .
4. लिंक की गयी रचनाओं के विचार, रचनाकार के व्यक्तिगत विचार है, ये आवश्यक नहीं कि चर्चाकार, प्रबंधक या संचालक भी इस से सहमत हो।
प्रस्तुति पर आपकी अनुमोल समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक आभार।




Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...