निवेदन।


फ़ॉलोअर

शनिवार, 4 जुलाई 2020

1814... कोकिला

सभी को यथायोग्य
"क्या हम सामान्य स्वर में बातचीत/बतकही/गप्प/विमर्श नहीं कर सकते ? थोड़ी देर में ऐसा लगने लगता है जैसे लड़ाई हो रही हो...!"
"तुम्हारे हाँ में हाँ नहीं मिलाने से तुम्हारे चेहरे की भाव-भंगिमा बदल जाती है... रुष्ट होते ही सामने वाले की आवाज पर अप्रिय टिप्पणी होने लगती है...!"
"शब्दों पर ध्यान तो दिया नहीं जाता अब सबकी आवाज तो नहीं हो सकती
यह मनुज  कितना क्रूर है,
गरीबों   से    छीनता    है,
अमीरों    को   भेट    देता,
कपड़ों   से जन  अमीर है,
आज   पहचान है   कपड़े,
गुण   कोई   नहीं   देखता,
अंग्रेज़ों द्वारा भारतीय कैदियों को तरह तरह की यातनाएँ दी जाती थी।
कैदियों से पशुओं की तरह काम करवाया जाता था।
उन्हें अँधेरी कोठरियों में कैदियों को जंजीरों से बाँध कर रखा जाता था।
कोठरियां भी बहुत छोटी होती थीं और खाने को भी कम दिया जाता था।
इस व्रत में देवी के स्वरूप कोयल रुप में पूजा जाता है.
कहा जाता है कि माता सती ने कोयल रुप में भगवान शिव को
पाने के लिए वर्षों तक कठोर तपस्या की थी.
उनकी तपस्या के शुभ फल स्वरूप उन्हें पार्वती रुप मिला
और जीवन साथी रुप में भगवान शिव की प्राप्ति होती है
कोकिला
आओ न अब हम तुम साथ गाते हैं
जीवन संगीत गुनगुनाते हैं |
दोनों के स्वरों के अनुनाद से
आसमान गूंजेगा
इतिहास के पन्नों में
एक नया पृष्ठ जुङेगा |
कोयल
कभी तो मेरे आंगन आओ,
मुन्ना-मुन्नी को बहलाओ।
मृदुल कंठ कहां से पाया,
जो सारे जग को है भाया।
मैं और गद्य लेखन
थोड़ा लिखकर मन उचटता है, चाय बनाकर पी लेता हूँ,
एकाध सिगरेट पीता हूँ और टी वी का रिमोट हाथ में आ जाता है. 
हैरीपॉटर या अवेंजर्स वाली कोई फिल्म मिल गई तो
 एक तिलिस्म की दुनिया में खो जाता हूँ. सब कुछ ख़्वाब सा 
लेकिन यह ख़्वाब सा मेरे ख़्वाबों में आ नहीं पाता क्योंकि 
अपने ख़्वाब तो वही हैं- छोटे लोगों के ख़्वाब. और फिर 
कितने दिन बल्कि महीने गुज़र जाते हैं और ऐसा
 इत्तफ़ाक़ फिर आता है, वही नस्रनिगारी का उबाल. और 
हासिल होतेहैं डायरी के वही पुरानीबातों को दुहराते हुए पन्ने.
><><><
पुन: भेंट होगी
><><><

विषय जारी
125 वां विषय
"सरहद"उदाहरण...
सोचती हूँ अक्सर 
सरहदों की
बंजर,बर्फीली,रेतीली,
उबड़-खाबड़,
निर्जन ज़मीनों पर
जहाँ साँसें कठिनाई से
ली जाती हैं वहाँ कैसे
रोपी जा सकती हैं नफ़रत?
रचनाएँ आज शनिवार 04 जुलाई शाम तक
ब्लॉग सम्पर्क फार्म द्वारा


24 टिप्‍पणियां:

  1. बेहद खूबसूरत प्रस्तुति।

    जवाब देंहटाएं
  2. बहुत सार्थक भूमिका। विमर्श की सनातन परंपरा तो यह है कि शस्त्रार्थ-स्थल ( युद्ध भूमि) में भी हम शास्त्रार्थ करते थे ( कुरुक्षेत्र में गीता)। आज की नई बौद्धिक संस्कृति में अब सब कुछ उलट गया है। सभ्यता की दौड़ में संस्कृति वहीं छोड़ दी और कुरुक्षेत्र उठा लाये। बहुत रोचक प्रस्तुति। आभार और बधाई!!!

    जवाब देंहटाएं
  3. एकदम सही कहा दी स्वस्थ विमर्श तो दूर की बात हैं साधारण बातचीत में भी मनमुताबिक कोई बात न हो तो उसकी गांठ मन में पड़ जाती है। मतभेद मनभेद करने में.पूर्णतया सक्षम है।
    यही वर्तमान दौर के चलन में है।
    कोकिला पर आधारित सभी रचनाएँ बहुत सुंदर हैं। आलेख भी अच्छा है।
    हमेशा की तरह सुंदर प्रस्तुति दी।
    सादर।

    जवाब देंहटाएं
  4. कोकिला की तरह ही मीठी सुरीली प्रस्तुति

    जवाब देंहटाएं
  5. हमारी रचना 'कोयल' को लिंक करने के लिए मैं बहुत बहुत आभार व्यक्त करता हूं

    जवाब देंहटाएं
  6. इस ब्लॉग की एक्टिविटी के बारे में हमें बताएं लेखक किस प्रकार अपनी बातों को साझा करते हैं?

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. इस ब्लॉग के संयोजक/प्रस्तुतिकर्त्ता/ब्लॉगर अपनी पसंद के 5 लिंक्स चयन कर अपनी भावाभिव्यक्ति को भूमिका में लेखन कर प्रस्तुतीकरण से पाठक को अवगत करवाते हैं

      हटाएं
  7. Great Thanks for sharing this valuable information.I have a blog about Love Shayari and Hindi Shayari

    जवाब देंहटाएं
  8. Thank you provide us hindi quotes. Also Nayastatus.com blog presenting Hindi Quotes . That helps you to share emotions with your friends, gf, bf, husband and wife.

    जवाब देंहटाएं
  9. I really thank you for the valuable info on this great subject and look forward to more great posts. Thanks a lot for enjoying this beauty article with me. I am appreciating it very much! Looking forward to another great article. Good luck to the author! All the best. Check out the best satta king game and win large amount of money by investing very less at sattaking. We provide the best satta king game result and charts online.

    जवाब देंहटाएं
  10. I don't think most people understand what true love is it's not too cheesy Satta King waking up in the middle Satta King and express your

    जवाब देंहटाएं
  11. Excellent And Awesome Post! So Thanks for Sharing This Information Helpful For Me. If also daily check Satta king Results. And Satta King Gali, Deshawar, Faridabad, Ghaziabad and other sattaking Result.

    जवाब देंहटाएं
  12. Nice article. Very interesting to read this article.I would like to thank you for the efforts you had made for writing this awesome article. This article resolved all my queries. If also daily check Satta king Results. And Satta King Gali, Deshawar, Faridabad, Ghaziabad and other sattaking Result.

    जवाब देंहटाएं

आभार। कृपया ब्लाग को फॉलो भी करें

आपकी टिप्पणियाँ एवं प्रतिक्रियाएँ हमारा उत्साह बढाती हैं और हमें बेहतर होने में मदद करती हैं !! आप से निवेदन है आप टिप्पणियों द्वारा दैनिक प्रस्तुति पर अपने विचार अवश्य व्यक्त करें।

टिप्पणीकारों से निवेदन

1. आज के प्रस्तुत अंक में पांचों रचनाएं आप को कैसी लगी? संबंधित ब्लॉगों पर टिप्पणी देकर भी रचनाकारों का मनोबल बढ़ाएं।
2. टिप्पणियां केवल प्रस्तुति पर या लिंक की गयी रचनाओं पर ही दें। सभ्य भाषा का प्रयोग करें . किसी की भावनाओं को आहत करने वाली भाषा का प्रयोग न करें।
३. प्रस्तुति पर अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .
4. लिंक की गयी रचनाओं के विचार, रचनाकार के व्यक्तिगत विचार है, ये आवश्यक नहीं कि चर्चाकार, प्रबंधक या संचालक भी इस से सहमत हो।
प्रस्तुति पर आपकी अनुमोल समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक आभार।




Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...