निवेदन।


फ़ॉलोअर

शनिवार, 25 अप्रैल 2020

1744... किताब

Best पुस्तक Quotes, Status, Shayari, Poetry & Thoughts ...
सभी को यथायोग्य
प्रणामाशीष

1 मार्च से 23 अप्रैल
यानी पूरे 53 दिन के बाद मैं बॉलकोनी में गई। बेटे के कहने पर... बेटे के ही उम्र के नौजवान (गुजरात का दीक्षित) से बातचीत हुई। कई लोग अपने-अपने कुत्ते को टहला रहे थे.. धूप में बैठी एक महिला लैपटॉप पर कुछ कर रही थी.. शायद वर्क एट होम निपटा रही होगी तथा उसका नन्हा साइकिल चला रहा था... माँ-हितायद के अनुरूप। बेहद खूबसूरत दिन लगा।
अमेरिका में पल रहे कई नन्हों को देखने को मिला। बड़े अनुशासित दिख रहे हैं। ना तो खिलाने के पीछे माँ पीड़ित दिखती हैं और ना सुलाने के। बेटे से कहा मैंने
भाषा उसकी बड़ी सरल हो अक्षर उसके बड़े चंचल हो- जैसे हम आपस में बोले पढकर मस्त मगन में ढोले- नाम हो उसका प्यारा-प्यारा छोटा मोटा सबसे नियारा- नयी-नयी हो उसमे बात पढने लगे सभी दिन रात...
किताब


किताब

पुस्तक पर कविता Hindi poem on kitab - mehtvta

किताब

Essay On Books In Hindi

किताब

Hindi Poems on Books - किताबों पर हिन्दी ...


><><
पुन: मिलेंगे
><><
अब हम-क़दम का एक सौ सत्रहवाँ विषय
प्रदत्त चित्र पर किसी भी विधा में
रचना लिखनी हैं।

उदाहरण
कृष्ण कुमार की रचना
गर्म दीवारों पर प्रतिदिन उसके
जलता है मानचित्र
लोकतन्त्र का
फ्रेम से गिरकर
बाहर निकल आती
आजादी की उपेक्षित तस्वीर।

बहुत बार देखा है उसने देश को

रोटी की तरह रंग बदलते
बौनी दीवारों पर उसके
पकता है हर रोज
पूरा देश
देश....
जो नहीं कुछ और
रोटी के ठण्डे टुकड़ों की

 अंतिम तिथि: 25 अप्रैल2020 
प्रकाशन तिथि:27अप्रैल 2020

16 टिप्‍पणियां:

  1. बंद कमरे से खुली बालकनी तक
    चंद क़दम की दूरी हफ्तों का सफ़रः।
    ----
    हमेशा की तरह सराहनीय संकलन दी।
    सुंदर अंक।
    सभी रचनाएँ अच्छी है।
    सादर।

    जवाब देंहटाएं
  2. आदरणीय दीदी...
    सादर नमन..
    यहां पर भी माताएं प्यार करती है अपने बच्चों से..
    पर अत्यधिक लाड़ में बच्चे जिद्दी हो जाते हैं और वो जिद उनके बाद ही छूटती है...
    सादर..

    जवाब देंहटाएं
  3. सारगर्भित एवं विचारणीय भूमिका के साथ किताब पर गहन चिंतन प्रस्तुत करतीं शानदार रचनाएँ। आज की विशेष प्रस्तुति में चयनित सभी रचनाकारों को बधाई एवं शुभकामनाएँ।

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. अगर आपको हिंदी में खेल के बारेमे जानकारी चाहिए तो आप निचे दिए लिंक पर क्लिक करे
      https://www.sportskeedalive.com/

      हटाएं
  4. Sometimes it becomes hard to take out all the transaction data available on the Binance account. But what if you require it to check out your previous transactions. If you are unaware of the steps and need guidance, you can always take help from the team of skilled professionals who are always ready to guide you. You can always call on Binance customer service number which is functional and the team can contact users anytime Binance Customer Service Number and all the doubts and problems will be eliminated under the assistance of skilled professionals who holds knowledge related to the Binance exchange.

    जवाब देंहटाएं
  5. Are you facing errors at the time of ? If you are stuck in these errors which are time consuming and on an average, it takes a few days to get verified. If you are open for solutions from the professionals , you can call on Blockchain customer service number which is always functional and the team is ready to support you. Whenever you are in fix, you Blockchain Customer Support NUmber can always have conversation with the professionals who are always at your service and avail stepwise remedies from the team in no time.

    जवाब देंहटाएं
  6. आदरणीय दीदी... सादर नमन.. यहां पर भी माताएं प्यार करती है अपने बच्चों से.. पर अत्यधिक लाड़ में बच्चे जिद्दी हो जाते हैं और वो जिद उनके बाद ही छूटती है... सादर Halchalwith5links

    जवाब देंहटाएं
  7. thanks for nice article . mother is always love his child . here is a website for hollywood movie and kuber matka

    जवाब देंहटाएं
  8. news
    news बहुत बार देखा है उसने देश को
    रोटी की तरह रंग बदलते
    बौनी दीवारों पर उसके
    पकता है हर रोज
    पूरा देश
    देश....

    जवाब देंहटाएं

आभार। कृपया ब्लाग को फॉलो भी करें

आपकी टिप्पणियाँ एवं प्रतिक्रियाएँ हमारा उत्साह बढाती हैं और हमें बेहतर होने में मदद करती हैं !! आप से निवेदन है आप टिप्पणियों द्वारा दैनिक प्रस्तुति पर अपने विचार अवश्य व्यक्त करें।

टिप्पणीकारों से निवेदन

1. आज के प्रस्तुत अंक में पांचों रचनाएं आप को कैसी लगी? संबंधित ब्लॉगों पर टिप्पणी देकर भी रचनाकारों का मनोबल बढ़ाएं।
2. टिप्पणियां केवल प्रस्तुति पर या लिंक की गयी रचनाओं पर ही दें। सभ्य भाषा का प्रयोग करें . किसी की भावनाओं को आहत करने वाली भाषा का प्रयोग न करें।
३. प्रस्तुति पर अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .
4. लिंक की गयी रचनाओं के विचार, रचनाकार के व्यक्तिगत विचार है, ये आवश्यक नहीं कि चर्चाकार, प्रबंधक या संचालक भी इस से सहमत हो।
प्रस्तुति पर आपकी अनुमोल समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक आभार।




Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...