निवेदन।


फ़ॉलोअर

रविवार, 22 नवंबर 2020

1953 ...यादो में है महक रहे, खुशबू चन्दन इत्र


नमस्कार
छठ
बहुत बड़ा उत्सव
मना लिया गया
इस उत्सव के सामने
सारे उत्सव फेल हो जाते हैं

भाई कुलदीप जी बाहर हैं आज..
हमारी पसंद....

विरक्त नज़रों से देखता है बहते
हुए अंतरिक्ष को, वो बांध
चुका है, अपने पांवों
में अमर प्रणय
का लौह -
स्तूप,
उसने नहीं चाहा था देखना मेरा -
अंतर्मुखी रूप।


यादे छुक छुक रेल रही , यादे नैरोगेज
यादो में है कैद रही , बाबू जी की मेज

यादो में चल चित्र रहे , याद रहे कुछ मित्र
यादो में है महक रहे, खुशबू चन्दन इत्र





जब तू ही मेरे दिल में
ढूँढ रहा हूँ मैं
फिर किस को महफ़िल में ?



मुझे कुछ बात कहनी थी 
लेकिन मन कहीं ठहरे तो कहूँ 

मुझे कुछ काम करने थे 
लेकिन मन कहीं रुके तो करूँ 


एक बूंद ही प्रेम अमी की
जीवन को रसमय कर देती,
एक दृष्टि  आत्मीयता की
अंतस को सुख से भर देती !
...
बस आज इतना ही
सादर

7 टिप्‍पणियां:

  1. असीम शुभकामनाओं के संग साधुवाद
    उम्दा प्रस्तुति

    जवाब देंहटाएं
  2. छठ पर्व के लिए शुभकामनाएं, पठनीय रचनाओं का संयोजन, आभार !

    जवाब देंहटाएं
  3. वाह बेमिसाल रचना प्रस्तुति

    जवाब देंहटाएं
  4. सुन्दर संकलन व प्रस्तुति के साथ सजा पांच लिंकों का आनंद मुग्ध करता है, सभी रचनाएँ अपना अलग व ख़ूबसूरत अंदाज़ रखती हैं, मुझे स्थान देने के लिए तहे दिल से शुक्रिया - - नमन सह। छठ पर्व की सभी को शुभ कामनाएं।

    जवाब देंहटाएं

आभार। कृपया ब्लाग को फॉलो भी करें

आपकी टिप्पणियाँ एवं प्रतिक्रियाएँ हमारा उत्साह बढाती हैं और हमें बेहतर होने में मदद करती हैं !! आप से निवेदन है आप टिप्पणियों द्वारा दैनिक प्रस्तुति पर अपने विचार अवश्य व्यक्त करें।

टिप्पणीकारों से निवेदन

1. आज के प्रस्तुत अंक में पांचों रचनाएं आप को कैसी लगी? संबंधित ब्लॉगों पर टिप्पणी देकर भी रचनाकारों का मनोबल बढ़ाएं।
2. टिप्पणियां केवल प्रस्तुति पर या लिंक की गयी रचनाओं पर ही दें। सभ्य भाषा का प्रयोग करें . किसी की भावनाओं को आहत करने वाली भाषा का प्रयोग न करें।
३. प्रस्तुति पर अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .
4. लिंक की गयी रचनाओं के विचार, रचनाकार के व्यक्तिगत विचार है, ये आवश्यक नहीं कि चर्चाकार, प्रबंधक या संचालक भी इस से सहमत हो।
प्रस्तुति पर आपकी अनुमोल समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक आभार।




Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...