निवेदन।


फ़ॉलोअर

शनिवार, 28 दिसंबर 2019

1625.. आग का छल्ला

ग्रहण पर शायरी के लिए इमेज परिणाम
यथायोग्य सभी को
प्रणामाशीष

खाने/भोजन में तुलसी पत्ता डालकर रखना...
रविवार-मंगलवार को तुलसी पत्ता नहीं तोड़ना...

अंधविश्वास और वैज्ञानिक पलड़े पर तुलता

रिंग ऑफ़ फायर


रिंग ऑफ़ फायर


रिंग ऑफ़ फायर
26 Dec. 2019 को सूर्य ग्रहण खंडग्रास सूर्य ग्रहण

तुकबंदी


धाकड़ बातें
Happy new year shayari in hindi


><
पुन: मिलेंगे2020 नया साल पर शायरी के लिए इमेज परिणाम
><

सन 2019 का अंतिम विषय
101 वाँ विषय
औकात
उदाहरण...

वस्तुतः
शब्द आईना ही होते हैं
जो बताते हैं
आदमी की औकात
कि वह कितना
गिरता है..
या गिरे हुए को
उठाता है।
जिसकी तस्वीर
खींचता रहता है
हरदम शब्द रूपी
आईना..
प्रेषण तिथि : 28 दिसंबर
प्रकाशन तिथि : 30दिसंबर

2020 के लिए इमेज परिणाम


9 टिप्‍पणियां:

  1. अद्भुत प्रस्तुति..
    सादर नमन..

    जवाब देंहटाएं
  2. वाह!!विभा जी ,बहुत खूबसूरत प्रस्तुति ।

    जवाब देंहटाएं
  3. बहुत सुंदर प्रस्तुति दी हमेशा की तरह लाज़वाब अंक
    सादर।

    जवाब देंहटाएं
  4. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    जवाब देंहटाएं
  5. बहुत सुंदर प्रस्तुति आदरणीया विभा दीदी द्वारा जाते साल 2019 के अंतिम शनिवार की। रोचक प्रस्तुतिकरण के साथ नवीनता का मोहक प्रयोग। सभी चयनित रचनाकारों को बधाई एवं शुभकामनाएँ।

    मेरी रचना को इस ख़ास प्रस्तुति में स्थान देने के लिये सादर आभार आदरणीया दीदी।

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. प्रस्तुतिकरण = प्रस्तुतीकरण (प्रस्तुति + इकरण इ +इ = ई ) ,सही शब्द प्रस्तुतीकरण है।

      क्षमा !

      हटाएं
  6. Great information shared.. really enjoyed reading this post thank you author for sharing this post .. appreciated

    Get all kinds of Happy New Year Quotes in Hindi for WhatsApp, Facebook Dp and Instagram. Here you can get all types of quotes and New Year Wishes in Hindi with Images.

    जवाब देंहटाएं

आभार। कृपया ब्लाग को फॉलो भी करें

आपकी टिप्पणियाँ एवं प्रतिक्रियाएँ हमारा उत्साह बढाती हैं और हमें बेहतर होने में मदद करती हैं !! आप से निवेदन है आप टिप्पणियों द्वारा दैनिक प्रस्तुति पर अपने विचार अवश्य व्यक्त करें।

टिप्पणीकारों से निवेदन

1. आज के प्रस्तुत अंक में पांचों रचनाएं आप को कैसी लगी? संबंधित ब्लॉगों पर टिप्पणी देकर भी रचनाकारों का मनोबल बढ़ाएं।
2. टिप्पणियां केवल प्रस्तुति पर या लिंक की गयी रचनाओं पर ही दें। सभ्य भाषा का प्रयोग करें . किसी की भावनाओं को आहत करने वाली भाषा का प्रयोग न करें।
३. प्रस्तुति पर अपनी वास्तविक राय प्रकट करें .
4. लिंक की गयी रचनाओं के विचार, रचनाकार के व्यक्तिगत विचार है, ये आवश्यक नहीं कि चर्चाकार, प्रबंधक या संचालक भी इस से सहमत हो।
प्रस्तुति पर आपकी अनुमोल समीक्षा व अमूल्य टिप्पणियों के लिए आपका हार्दिक आभार।




Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...